Skip to main content
HomePage

यह गाँव मेरा भी है: भगाना में दलित दावेदारी , भूमि अधिकार एयर सामाजित बहिष्कार

30 Dec 2012

२३ मई २०१२ को हरियाणा के हिसार जिले में भगाना गांव के ७० दलित परिवारों ने, मवेशियों समेत अपना गांव छोड़कर, हिसार शहर में स्थित मिनी सचिवालय के बहार अपना डेरा जमा लिया। समाचारों के मुताबिक वे अपने गांव के जाटों द्वारा किये जा रहे उत्पीड़न और जमीन पर कब्जे का विरोध कर रहे थे. इसी सन्दर्भ में पीपुल्स  यूनियन फॉर  डेमोक्रेटिक राइट्स, दिल्ली और एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक राइट्स, पंजाब ने २१ जून २०१२ को इस मामले कि एक संयुक्त जांच क़ी. 

Section
Download this article here